Spread with love

शिमला। राज्यपाल बंडारू दत्तात्रेय ने आज ऊना जिला प्रशासन, औद्योगिक संघ और जिला की प्रमुख औद्योगिक इकाइयों के प्रमुखों के साथ राजभवन से वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत की।

उन्होंने जिला में कोविड-19 को लेकर स्थिति का जायजा लिया और औद्योगिक इकाइयों को इस दौरान हो रही समस्याओं के बारे में जानकारी प्राप्त की।

राज्यपाल ने कोरोना महामारी से निपटने में जिला प्रशासन की सराहना की। उन्होंने कहा कि इस दिशा में जागरूकता अभियान और बढ़ाया जाना चाहिए तथा लोगों में विश्वास पैदा होना चाहिए। उन्होंने कहा कि आर्थिक गतिविधियां जारी रखना जरूरी हैं, जिसके लिए प्रयास करने की आवश्यकता है।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने ‘आत्मनिर्भर भारत’ अभियान के तहत विभिन्न योजनाओं के तहत 20 लाख करोड़ रुपय का प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन को यह सुनिश्चित बनाना चाहिए कि समाज के सबसे निचले वर्ग तक इन योजनाओं का लाभ मिल सके।

दत्तात्रेय ने कहा कि सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्यम (एमएसएमई) को बैंक व अन्य संस्थाओं से सहयोग मिलना चाहिए, ताकि इस मुश्किल घड़ी में एमएसएमई का कार्य चल सके, जिससे रोजगार भी मिलेगा और आर्थिक गतिविधियां भी बढ़ेंगी। उन्होंने उपायुक्त और औद्योगिक संघ से श्रमिको को लेकर रिपोर्ट प्रस्तुत करने को कहा।

उन्होंने औद्योगिक इकाइयों के प्रतिनिधियों से मांग एवं आपूर्ति के अनुसार कार्य करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी से लड़ने में कार्य कर रहे अग्रणी विभाग समन्वय समिति गठित कर, 15 दिन में बैठक करके व्यवस्था की जानकारी साझा कर सकते हैं।

उन्होंने जिला प्रशासन से दूसरे राज्यों से आने वाले हिमाचली युवाओें का पंजीकरण करने के प्रदेश सरकार के प्रयासों में सहयोग करने की अपील की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: