Spread with love

धर्मशाला। अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी मस्त राम भारद्वाज ने जिला के बैंकों को सरकार की विभिन्न योजनाओं के तहत पात्र लोगों को ऋण देने में उदारता दिखाने को कहा है। उन्होंने बैंको से सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत जनहित के कार्यों में सहयोग का आग्रह किया।

मस्त राम भारद्वाज डीआरडीए के सभागार में आयोजित कांगड़ा जिला के बैंकों की जिला स्तरीय समीक्षा समिति की मार्च तिमाही बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे।

एडीएम ने जिला कांगड़ा के सभी बैंकों को तय समयावधि में अपने निर्धारित लक्ष्य पूरा करने को कहा। उन्होंने कहा कि किसानों, बागवानों तथा जरूरतमंदों की सहायता में बैंक जिला प्रशासन का सक्रिय रूप से सहयोग करें।

उन्होंने भरोसा दिलाया कि जिला प्रशासन बैंकों की हर प्रकार की सहायता के लिए हमेशा तत्पर है। इस पर बैंक अधिकारियों ने उन्हें संबंधित संस्थानों की ओर से हरसंभव सहयोग का भरोसा दिलाया।

एडीएम ने सभी बैंकों की उपलब्धियों की सराहना की तथा उन्हें अपने लक्ष्य पूरे करने को कहा। उन्होंने जिले में विभिन्न विकास कार्यों में तेजी लाने के लिए सभी विभागों से मिल-जुलकर कार्य करने के लिए कहा।

उन्होंने ऋण जमा अनुपात की कमी पर चिंता व्यक्त करते हुए सभी बैंकों को ऋण जमा अनुपात को बढ़ाने के दिशा-निर्देश दिए तथा बैंकों को ग्राहकों के प्रति संवदेनशीलता दिखाने के लिए कहा। उन्होंने बैंकरों को कोविड-19 की वजह से आई आर्थिक मंदी से निपटने के लिए उचित कार्य करने के दिशानिर्देश दिये।

उन्होंने कहा कि बैंक विभिन्न स्कीमों के प्रति जागरूकता अभियान आयोजित करें ताकि अधिक से अधिक लोगों को इन स्कीमों का लाभ मिल सके। उन्होंने मुख्यमंत्री स्वावलंबन योजना के अंतर्गत अपूर्ण ऋण मामलों का जल्द से जल्द निवारण करने को कहा।

इस अवसर पर प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अन्तर्गत आने वाले किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड/पीएमएसबीवाई/पीएमजेजेबीआई से जोड़ने हेतू चलाए गये अभियान की समीक्षा की गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: